Socialduty

I.I.T का जुनून और विकास.

दोस्तों आई आई टी  क्या है?  यह भारत में एक उच्च संस्था है जो इंजिनियर और बड़े बड़े बैज्ञानिक पैदा करती है. यह ऍम आई टी के मॉडल पर बनाया गया  है.ऍम आई टी यह अमेरिका का उच्च संस्था है जो इंजिनियर और बैज्ञानिक पैदा करती है.अपने देश में आई आई टी में यानि भारत […]

Socialduty

भारत की दुर्दशा और विकास.

दोस्तों भारत एक विशाल देश है. यहाँ की जनसंख्या लगभग 130करोड़ है. भारत सांस्कृतिक रूप से पूरे विश्व में सबसे समृद्ध है. 130 करोड़ की आबादी 32लाख से अधिक एरिया 35से अधिक राज्य, क्या नहीं है भारत के पास?लेकिन भारत में ग़रीबी, भूखमरी, भ्रष्टाचार अपने विशाल रूप में पाया जाता है.100वर्ष  पहले भारत को सपेरों, […]

Socialduty

छात्र-छात्राओं के मनो भावों पर नियंत्रण.

हर मानव जीवन में कभी ना कभी छात्र जरूर रहता है. यह अभी तक ज्ञात नहीं है कि विद्या का प्रारम्भ कब से इस धरती पर हुआ. जितने भी प्रमाण इस धरती पर है वे सब अनुमान पर आधारित है. विश्व के महान सभ्यता में जैसे चीन, सिंधु, रोम, आदि सभ्यता में विद्या अध्धयन का […]

Socialduty

यूरोप ने दुनिया को क्या दिया.

दोस्तों यूरोप एशिया के उत्तर में व्यवस्थित  है. यूरोप सामाजिक परिवर्तन के कई चरणों से हो कर गुजरा है. यूरोप के विकास का मुख्य कारण वहां के लोगों का अधिक मेहनत है. आज पूरा यूरोप महाद्वीप आर्थिक रूप से काफी मजबूत है. आज यूरोप का जो विकास हम देख रहे है उसकी शुरुआत 1688ई में […]

Socialduty

समाज बनाना अमेरिका से सीखें.

दोस्तों दुनिया में कई प्रकार का समाज पाया जाता है. सात महाद्वीपों में सबसे विकसित महाद्वीप यूरोप और उत्तरी अमेरिका है.  Usa का समाज आधुनिक  दुनिया को नया रास्ता दिखाता  है. दोस्तों वैसे हर समाज में विकास की योजना चलती रहती है. 1776के बाद अमेरिकी समाज पूरी दुनिया के लिये विकास का इंजन बना.कभी जापान […]

Socialduty

मनोरंजन और समाज.

दोस्तों मानव जीवन के लिये मनोरंजन एक आवश्यक  पहलू है. जीवन  में मनोरंजन यदि नहीं हो तो जीवन नीरस हो जाता है. प्राचीन काल में लोगों का मुख्य  मनोरंजन शिकार करना था. फिर अनेक खेलो का जन्म हुआ. पाशा, शतरंज आदि बहुत पुराने खेल है. दुनिया के हर कोने में  अनेक प्रकार के मनोरंजन युक्त […]

Socialduty

समय का उपयोग .

दोस्तों समय की अवधारणा कब आया सटीक तरीके से आज तक ज्ञात नहीं है. पहले लोग उजाली रात या दिन के पहर का अनुमान लगा कर समय देखते थे. जब संख्या का जन्म हुआ तब जाकर इसे घंटे में विभाजित किया गया. आज आधुनिक समाज में इलेक्ट्रानिक घड़ी का जन्म हो गया है. देश एवं […]

Socialduty

दुर्घटना से बचें और बचाये.

दोस्तों इस धरती पर आये दिन दुर्घटना होती रहती है.दुर्घटना का निश्चित आकार नहीं होता है. वह कहाँ कब घट  जाय कुछ अनुमान नहीं लगाया जा सकता है. दुर्घटना क्या है —-एक ही पल में सम्पति, किसी जीव, इंसान का नस्ट होना या नुकसान होना दुर्घटना कहलाती है. दुर्घटना इस धरती पर अचानक घटती है. […]

Socialduty

रास्ते बनाये.

दोस्तों मानव जीवन इस धरती पर सबसे बेहतर माना जाता है. जीवन का मूल उदेश्य क्या है यह अभी तक ज्ञात नहीं है. लोग आते है चले जाते है. जीवन रूकता नहीं चलता रहता है. प्यारे दोस्तों भारत जैसा देश जहाँ 135करोड़ की आबादी है.अगर हम यह माने की हमारा जन्म विकसित देश में हुआ […]

Socialduty

गतिशीलता और जीवमण्डल

दोस्तों जीवमण्डल क्यों बना यह प्रश्न काफी जटिल है. धर्मशास्त्र और विज्ञान इसकी अलग अलग व्याख्या करते है. जीव जगत काफी विशाल है. बहुत से जीव अभी भी है ,जिनका खोज अभी जारी है . जीव जगत में मानव ही सर्बश्रेष्ठ विकसित प्राणी है .समुद्र में और धरती पर अभी बहुत जीव है जिनकी पहचान […]